आरोग्यं सुलभं जनान्||


May Everyone Get Supreme Health.











Norway

Dr. Mahendra Rana


जीवन परिचय

              डा. महेन्द्र राणा का जन्म उत्तराखंड की सुरम्य वादियों में स्थित उत्तरकाशी जिले में श्रीमति चंद्रकला एवं श्री प्रेम सिंह राणा जी के घर में 20 नवम्बर 1981 को हुआ | बाल्यावस्था से ही डा. महेन्द्र का रुझान स्वास्थ्य सेवाओं एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति की ओर रहा जिसके लिए उन्हें सन 1995 एवं 1998 में भारत सरकार द्वारा " राष्ट्रीय बाल वैज्ञानिक " के रूप ने सम्मानित किया गया | मेधावी शैक्षिक पृष्ठभूमि के साथ डा. महेन्द्र राणा ने अपनी चिकित्सीय शिक्षा विश्व प्रसिद्ध गुरूकुल कागडी आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज हरिद्वार से प्राप्त की | स्नातक डिग्री के साथ- साथ देश के विमिन्न चिकित्सा शिक्षा संस्थानों से पीजी. सर्टिफिकेट इन डर्मेटोलॉजी, फेलोशिप इन एस्थेटिक मेडिसन, मास्टर डिप्लोमा इन एल्टरनेटिव मेडिसिन आदि की उपाधियों भी प्राप्त की । डा. महेन्द्र राणा को " आटो इम्यून स्किन डिसॉर्डर " की विभिन्न बिमारियों जैसे सफेद दाग (विटिलिगो). सोराइसिस, इक्जीमा एवं एलर्जी आदि जीर्ण त्वचा रोगों के उपचार मे महारत प्राप्त है । सन 2013 में डा. महेन्द्र राणा ने हरिद्वार जनपद में " डा. महेन्द्र आरोग्य संस्थान " की स्थापना की जिसमें आयुर्वेद के मूल सिद्धांतों को ध्यान में रखते हुए ,एक सुरक्षित-सुलभ -आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति का विकास किया गया है | आज डा. महेन्द्र राणा के साथ विभिन्न चिकित्सा पद्धतियाँ के लगभग 30 विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम जुड चुकी है जो सम्पूर्ण उत्तर भारत के विभिन्न क्षेत्रों में आम जन मानस को सफल सुरक्षित स्वास्थ्य सेवा प्रदान कर रही है । "डा. महेन्द्र आरोग्य संस्थान" द्वारा प्रतिमाह सुदूर-सुविधाओं से वंचित ग्रामीण क्षेत्रों है नि :शुल्क चिकित्सा शिविरों का आयोजन हो रहा है जिससे गरीब से गरीब व्यक्ति तक बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओ का लाभ प्राप्त हो सके । डा. महेन्द्र आरोग्य संस्थान के अनुभवी समर्पित चिकित्सक, अनेकों ऐसे रोग. जिन्हें आधुनिक चिकित्सा पद्धति ने असाध्य घोंषित किया जा चुका है का प्राकृतिक आयुर्वेदिक उपचार अनवेषित करने हेतु निरन्तर प्रयासशील हैं। डा. महेन्द्र राणा अपने अथक परिश्रम के साथ आम जन मानस को शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक एवं सामाजिक आरोग्यता प्रदान करने हेतु सदैव समर्पित है ।









Norway

Dr. Mahendra Rana


About Us

              Dr. Mahendra Rana was born on 20th November 1981,at the house of Shri Prem Singh Rana and Mrs. Chandrakala Rana in the lap of Himalaya(Uttarkashi-Uttarakhand)India.Since Childhood,Dr. Mahendra has deep interest towards health services and Ayurveda healing methods. During his schooling he has hounerd ans awarded as "National Child Scientist" by Govt. of India in 1995 and 1998. He achive his medical graduate degree from wolrd's renowned Ayurvedic Medical college " Gurukul kangri" Haridwar.After graduation he received post graduate certification and diploma from various medical Institute of India. Dr. Mahendra Rana is expertise to treat "Auto Immune Skin Disorder" like Vitiligo(Leucoderma),Psoriasis, eczema,mycosis and Chronic skin allergy. In 2013, Dr. Mahendra Rana established his own medical institute "Dr. Mahendra Arogya Sansthan" at Haridwar,Uttarakhand. Now Dr. Mahendra Rana has teamed up with many specialist doctors of Ayurveda to provide successful, safe ,effective and scientific health service in country and worldwide. Dr. Mahendra Rana is always dedicated to provide PHYSICAL,MENTAL,SPIRITUAL ans Social Health to the everyone with their untiring hard work.



Developed By Arisedata Infotech